बाल झड़ने से रोके ये घरेलू उपाय

बाल गिरने की परेशानी पुरुषों और महिलाओं में बेहद आम है। बाल झड़ने का प्रमुख कारण अनुवांशिकता है। इसके अलावा अन्य कारक भी हैं जो बाल झड़ने का कारण बनते हैं। लेकिन , बाल झड़ने से रोकने के घरेलू उपाय हैं।

तो चलिए जानते हैं बाल झड़ने से रोकने के घरेलू उपाय जिनके इस्तेमाल से आपके बाल लंबे और घने दिखने लगेंगे, और साथ ही इन उपायों को कब और कैसे इस्तेमाल करना है और इनके फायदे क्या हैं –

बाल झड़ने से कैसे रोके –

  1. नारियल का दूध –

सामग्री –

  • 1 कप नारियल का दूध।

विधि –

आप नारियल का दूध घर में भी बना सकते हैं। नारियल को या तो कस लें या पीस लें और उसे दूध के साथ मिला दें। अब हेयर डाई ब्रश से नारियल के दूध को जड़ों में लगाएं। अब अपने सिर को तौलिये से ढक लें और लगभग 20 मिनट तक इसे ऐसे ही छोड़ दें। 20 मिनट के बाद तौलिया को हटा दें और अपने बालों को ठंडे पानी से धो लें। पानी से धोने के बाद बालो को शैम्पू से धोएं।

नारियल के दूध का इस्तेमाल कब करें -आप इस प्रक्रिया को हफ्ते में एक बार ज़रूर करें।

बालों को झड़ने से रोकने के लिए नारियल के दूध के फायदे – नारियल का दूध विटामिन ई और वसा से समृद्ध है जो आपके बालों को नमी देता है साथ ही स्वस्थ भी रखता है। दूध पोटेशियम से समृद्ध होता है और इसमें अन्य महत्वपूर्ण घटक भी पाए जाते है जो बालों को बढ़ाने के लिए बेहद लाभकारी है। नारियल का दूध प्रोटीन, वसा और खनिजों जैसे पोटेशियम से समृद्ध होता है। इस प्रकार, नारियल के दूध से आप अपने बालों को धोकर झड़ने से बचा सकते हैं। नारियल के तेल में भी इसी तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं जिससे जड़ें आपकी मजबूत होती हैं और दो मुहें बाल भी नहीं होते। इस तेल के साथ नियमित रूप से अपने बालों में मसाज करने से बाल झड़ते नहीं हैं। आप नारियल को कस लें और दूध के साथ कसे नारियल को मिला लें साथ ही इसमें थोड़ा पानी भी डालें। इसमें जीवाणुरोधी गुण होते हैं जो बालों को झड़ने से बचाते हैं।

  1. एलोवेरा (ग्वारपाठा या घृतकुमारी)

सामग्री –

  • एलोवेरा पौधे के पत्ते (या डंठल भी)।

विधि –

एलो वेरा बालों को बढ़ाने के लिए एक पारंपरिक तरीका है ,एलो वेरा के पाते या डंठल में से गूदे को निकालें और अपने बालों को गूदे से रगड़ें। गूदे को लगाने के बाद अपनी जड़ों में मसाज करें। इसे लगभग 15 मिनट तक छोड़ दें,फिर ठंडे पानी से बालों को धोएं। कोशिश करें कि गूदे को लगाने से पहले आपके बाल धुले हुए हों।

एलो वेरा का इस्तेमाल कब करें –इस प्रक्रिया को हफ्ते में तीन बार दोहराएं। सुबह अपने बालों में एलो वेरा के गूदे को लगाएं।

बालों को झड़ने से रोकने के लिए एलो वेरा के फायदे – जड़ों और बालों के PH स्तर को संतुलित रखने में एलो वेरा महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह जड़ों के अंदर तक जाकर बालों को झड़ने से रोकता है।

सावधानी –

एलो वेरा को तोड़ने के बाद निकलने वाले पीले रंग के पदार्थ में विषाक्त पदार्थ पाए जाते हैं। अगर आप उसे अपनी त्वचा पर लगाते हैं तो पीला पदार्थ आपकी त्वचा पर खुजली पैदा कर सकता है। एलो वेरा के गूदे को निकालने से पहले आप पौधे को उबाल लें जिससे सभी विषाक्त पदार्थ खत्म हो जाएँ।

  1. नीम की  पत्तियां

सामग्री –

  • 10 – 12 सूखे नीम के पत्ते।
  • और एक पानी का बर्तन।

विधि –

सबसे पहले एक पैन या बर्तन लें उसमें 3 कप पानी डालें। अब 10-12 सूखे नीम के पत्तों को पानी में डालें। नीम के पत्तों को पानी में उबलने दें। जब तक कि पानी का स्तर आधा नहीं हो जाता तब तक। पानी का स्तर आधा होने के बाद मिश्रण को ठंडा करने के लिए बर्तन को अलग रख दें। अब इस मिश्रण से अपने बालों को धोये।

नीम की पत्तियों का इस्तेमाल कब करें –इस उपाए को आप हर बार बाल धोने के बाद इस्तेमाल करें। इसका इस्तेमाल हफ्ते में एक बार ज़रूर करें।

बालों को झड़ने से रोकने के लिए नीम की पत्तियों के फायदे – नीम में उत्कृष्ट जीवाणुरोधी गुण होते हैं जो आपके बालों में रूसी को खत्म करते हैं। यह आपकी जड़ों को स्वस्थ रखती है और बालों का विकास बढाती है। यह त्वचा के रक्त के प्रवाह को भी उत्तेजित करती है, जिससे बालों की जड़ें पोषित होती हैं। नीम जूँ और लीखें खत्म करने में लाभकारी है साथ ही बालों को झड़ने से रोकने में मदद भी करता है।

सावधानी –

बालों के लिए नीम का उपयोग (विशेष रूप से रूसी के मामले में) आपकी आंखों को जला सकता है। तो नीम के पानी से धोते समय सावधान रहें और कोशिश करें कि ये पानी आपकी आँखों तक न पहुंचे।

  1. आंवला

बालों को झड़ने से रोकने के लिए आंवला के फायदे – आंवला विटामिन सी से समृद्ध है। ये पोषक तत्व बालों को बढ़ाने में मदद करता है साथ ही बालों में चमक भी लाता है। विटामिन सी लोहे को अवशोषित करने में मदद करता है जिससे कि आपके बालों की जड़ें मजबूत और स्वस्थ रहती हैं। आंवला उम्र से पहले होने वाले सफ़ेद बालों को उगने से रोकता है। नियमित रूप से आंवला खाने से बालों में आपके चमक आती है साथ ही बालों को झड़ने से रोकने में मदद होती है।

पहली ​ सामग्री –

  • 4-5 आंवला लें।
  • 1 कप नारियल तेल।

विधि –

एक बर्तन में नारियल का तेल डाल दें। अब उसमे 4-5 आंवला डालें। और उन्हें उबलने के लिए रख दें। जब तक तेल काला न पड़ जाए तब तक उसे उबलने दें। जब तेल काला पड़ जाये उसके बाद बर्तन को अलग ठंडा होने के लिए रख दें। ठंडा होने के बाद अब उस तेल से अपने जड़ों में मसाज करें। इसे लगभग 20 मिनट तक छोड़ दें और फिर हमेशा की तरह बालों को शैम्पू से धो लें।

दूसरी सामग्री –

  • 4-5 आंवला लें।
  • नींबू का जूस।

विधि –

सबसे पहले आंवला का जूस निकालने के लिए 4-5 आंवलों को क्रश कर लें। ताज़े नींबू के जूस में अब 2 चम्मच आंवले का जूस या आंवले का पाउडर बराबर मात्रा में मिलाएं। अब इस मिश्रण को जड़ों में लगाएं और लगाने के बाद इस मिश्रण के सूखने का इंतज़ार करें। सूखने के बाद गुनगुने पानी से अपने बालों को धोएं।

आंवला का इस्तेमाल कब करें – इन दोनों  प्रक्रियाओं को हफ्ते में दो बार ज़रूर लगाएं।

  1. मेथी के बीज

बालों को झड़ने से रोकने के लिए मेथी के बीज के फायदे – मेथी के बीज बालों के विकास में वृद्धि करते हैं और बालों के रोम के पुनर्निर्माण में मदद करते हैं। मेथी के बीज बालों को चमकदार, मजबूत और लंबा बनाते हैं। इससे बालों के झड़ने की समस्या कम होती है।

पहली सामग्री –

  • 2 बड़े चम्मच मेथी।
  • 4 चम्मच दही।
  • 1 अंडा।

​विधि –

रातभर के लिए मेथी के बीज के दो बड़े चम्मच भिगोकर रख दें। सुबह में बीज को निकलकर इनका पेस्ट तैयार कर लें। मिक्सचर में मेथी के बीज को पीसते हुए थोड़ा सा पानी डाल लें जिससे पेस्ट ठोस नहीं बनेगा। अब एक अंडा और चार चम्मच दही मेथी के बीज के मिश्रण में मिलाएं। इस मिश्रण को अपने बालो और जड़ों में लगाएं।

आधे घंटे के लिए इस मिश्रण को ऐसे ही बालों में लगा हुआ छोड़ दें। आधे घंटे के बाद बालों को पानी से धो लें।

दूसरी सामग्री –

  • 1 कप मेथी के बीज।

​विधि –

रातभर के लिए मेथी के बीज को भिगोकर रख दें। सुबह में बीज को निकल लें और मिक्स कर लें। कोशिश करें कि आपका पेस्ट गाढा नहीं होना चाहिए। अब इस मिश्रण को जड़ों और बालों की छोर तक लगाएं। अब एक तौलिये से अपने बालों को ढक लें। इसे लगभग 40 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें। फिर ठंडे पानी से अपने बालों को धोएं।

तीसरी सामग्री –

  • 2 बड़े चम्मच मेथी।
  • 1/2 कप नारियल का तेल।

विधि –

एक पैन में नारियल का तेल लें अब उसमे मेथी को फ्राई करें। मेथी ब्राउन होने के बाद पैन को अलग ठंडा होने के लिए रख दें। ठंडा होने के बाद मिश्रण को छान लें। अब इस मिश्रण को जड़ों में लगाएं और धीरे धीरे मसाज करें। मिश्रण को एक घंटे के लिए लगा हुआ छोड़ दें। एक घंटे के बाद बालों को धो लें।

मेथी के बीज का इस्तेमाल कब करें – आप इस मिश्रण को महीने में एक या दो बार लगाएं।

  1. मुलेठी

बालों को झड़ने से रोकने के लिए मुलेठी के फायदे – मुलेठी बालों में लगाने से रूसी नहीं होती और जड़ें मजबूत रहती हैं। यह जड़ों को स्वस्थ रखता है और बालों के झड़ने की समस्या को कम करता है।

सामग्री –

  • एक बढ़ा चम्मच मुलेठी।
  • एक कप दूध।
  • एक चम्मच केसर लें।

विधि –

दूध में मुलेठी और केसर बराबर मात्रा में मिलाएं। सोने से पहले इस मिश्रण को रूई से अपने जड़ों में लगाएं।

रातभर इसे ऐसे ही छोड़ दें। सुबह में अपने बालों को धो लें।

मुलेठी का इस्तेमाल कब करें – इस मिश्रण को हफ्ते में दो बार ज़रूर लगाएं।

  1. चुकन्दर के पत्ते

बालों को झड़ने से रोकने के लिए चुकंदर की पत्तियों के फायदे – चुकंदर में पोटेशियम, प्रोटीन, विटामिन बी और सी शामिल हैं जो ये सभी तत्व स्वस्थ बालों के लिए बेहद आवश्यक हैं और बालों को झड़ने से रोकने में फायदेमंद भी।

सामग्री –

  • कुछ चुकंदर की पत्तियां।
  • 1 चम्मच हिना।

विधि –

एक पैन में पानी लें और उसमे चुकंदर की पत्तियां डालें और पानी को तब तक उबालते रहें जब तक वो आधा न हो जाये। अब पानी में से चुकंदर की पत्तियों को निकालने के बाद मिक्सी में इसे डाल लें और 1 चम्मच उसमें हिना डालकर मिक्स कर लें। पेस्ट तैयार करने के बाद इस मिश्रण को जड़ों में लगाएं। इसे लगभग 20 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें और पानी से फिर अपने बालों को धो लें।

चुकंदर की पत्तियों का इस्तेमाल कब करें – इस मिश्रण को हफ्ते में तीन बार लगाएं।

  1. प्याज का जूस

बालों को झड़ने से रोकने के लिए प्याज के जूस के फायदे – प्याज में जीवाणुरोधी गुण होते हैं जिससे बालों की बैक्टीरिया सम्बन्धी समस्या को खत्म करने में मदद मिलती है। इसमें सल्फर की मात्रा बहुत ज़्यादा होती है जिससे रक्त परिसंचरण में सुधार होता है और बालों को झड़ने से रोकने में मदद मिलती है। बालो के रोम के उपचार के लिए भी सल्फर को जाना जाता है।

सावधानी –

अपने बालों में प्याज का जूस लगाते समय सावधानियां बरतें। अगर आपकी आँखों में प्याज का जूस चला जाता है तो आँखों को ठंडे पानी से धोएं। हालांकि आपकी आंखों के लिए प्याज का जूस हानिकारक नहीं है। प्याज का जूस जलन और अत्यधिक असुविधा पैदा कर सकता है।

पहली​ सामग्री –

  • 1 प्याज।
  • एक रूई का बंडल।

​विधि –

प्याज को कस लें और फिर उसका जूस एक बर्तन में निकालकर रख लें। जूस में रूई को डुबोएं और इसे सीधे अपने सिर पर लगाएं। कोशिश करें कि आप जड़ों से बालों की छोर तक इसे लगाएं। लगभग 30 मिनट के लिए इसे बालों में ऐसे ही छोड़ दें। इसके बाद आप अपने बालों को पानी से धो लीजिये। बालों को पानी से धोने के बाद शैम्पू से धोये।

दूसरी सामग्री –

  • 1 प्याज।
  • 2 चम्मच शहद।
  • गुलाब जल।

विधि –

सबसे पहले प्याज का जूस निकालें। अब इसमें 1 से 2 चम्मच शहद जोड़ें। प्याज की गंध के लिए आप गुलाब जल भी मिला सकते हैं। अब इस मिश्रण को अपने बालों में लगाएं और 40 से 50 मिनट के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दें। फिर अपने बालों को पानी से धो लें।

​प्याज के जूस का इस्तेमाल कब करें – आप इस मिश्रण को हफ्ते में एक बार ज़रूर लगाएं

  1. ग्रीन टी

बालों को झड़ने से रोकने के लिए ग्रीन टी बैग के फायदे – ग्रीन टी का इस्तेमाल बालों को बढ़ाने और मजबूत बनाने के लिए जाना जाता है। ये आपके मेटाबॉलिज्म को भी बढ़ाता है जिससे बालों का विकास तेज़ी से होता है साथ ही बालों को झड़ने से रोकता है।

सामग्री –

  • 2 ग्रीन टी बैग।
  • 2 – 3 कप गर्म पानी।

विधि –

एक कप गर्म पानी में दो ग्रीन टी के बैग को डालें। अब गर्म पानी को ठंडा होने के लिए रख दें। अब टी बैग को निकाल लें। और उस मिश्रण को बालों को धोने के लिए इस्तेमाल करें। मिश्रण से बालों को धोने के बाद जड़ों में मालिश करें। मालिश करने के बाद बालों में शैम्पू कर लें।

ग्रीन टी बैग का इस्तेमाल कब करें – आप ग्रीन टी के मिश्रण को शैम्पू के बाद कंडीशनर के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं। अपने बालों को शैम्पू करने के बाद इस मिश्रण को हफ्ते में दो बार ज़रूर लगाएं।

  1. अंडे का मास्क

पहली सामग्री –

  • 2 अंडे।

विधि –

एक कटोरे में दो अंडे डालें। अंडों की जर्दी को डालने से पहले अलग कर लें।सफ़ेद अंडे को अच्छी मिलाइये जब तक पेस्ट गाड़ा न बन जाये।अंडे को जड़ों में लगाने के लिए हेयर डाई ब्रश का प्रयोग करें।अब नहाने वाली कैप से बालों को ढक लें और लगभग 20 मिनट के लिए इसे छोड़ दें।फिर ठंडा पानी के साथ बालों को धो लें। इसके बाद अपने बालो को शैम्पू से धो लें।

दूसरी सामग्री –

  • 1 अंडा।
  • 1 चम्मच जैतून का तेल।

विधि –

सबसे पहले एक अंडा लें।और एक चम्मच जैतून के तेल के साथ इसे मिलाएं।अब दोनों का एक अच्छा पेस्ट तैयार कर लें।इसके बाद इसे जड़ों और पूरे बालों में लगाएं। 15 से 20 मिनट के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दें।अब अपने बालों को ठंडे पानी से धो लें। पानी से धोने के बाद बालों में शैम्पू करें।

अंडे का हेयर मास्क का इस्तेमाल कब करें -हफ्ते में दो बार इस उपाए को दोहराएं।

  1. हिना

खासकर भारत में प्राचीन काल से ही हिना को प्राकृतिक बालों को कलर करने के लिए और कंडीशनर के रूप में प्रयोग किया जाता है। बालों को मजबूत बनाने के लिए भी हिना का उपयोग किया जाता है। इसकी प्रभावशीलता को बढ़ाने के लिए आप हिना को सरसों के तेल के साथ मिक्स करके भी लगा सकते हैं।

विधि –

250 मिलीलीटर सरसों का तेल लें। अब धुले हुए हिना के पत्तों को उसमे मिलाएं। इस मिश्रण को उबालने के लिए रख दें। तब तक उबालें जब तक पत्तियां जलने न लगे। फिर मिश्रण को मलमल के कपडे के साथ छाने। छाने हुए मिश्रण को किसी बोतल में बंद करके रख लें। अब इस मिश्रण से आप रोज़ अपनी जड़ों में लगाकर मालिश करें। इसके अलावा आप 1 कप हिना के पाउडर को आधा कप दही के साथ मिला लें। इस मिश्रण को अपने बालों में लगाएं और सूखने तक का इंतज़ार करें। अब मिश्रण को ठंडे पानी से धो लें। फिर शैम्पू से अपने बालों को धो लें।